जयपुर। राजकीय महाविद्यालय कंवरनगर, ब्रह्मपुरी जयपुर व एंटरप्रेन्योरशिप एण्ड कैरियर हब (ईसीएच), राजस्थान विश्वविद्यालय जयपुर के संयुक्त तत्वावधान व प्राचार्या डाॅ. सुमन भाटिया की अध्यक्षता में “समाज-विज्ञानों के क्षेत्र में उद्यमिता एवं स्वरोजगार के विविध विकल्पों व सम्भावनाओं” विषय पर विद्यार्थी-हितार्थ व रोजगारों उपयोगी परिचयात्मक-गोष्ठी व परिचर्चा कार्यक्रम का का आयोजन किया गया। ईसीएच, राजस्थान विश्वविद्यालय के विशेषज्ञ व संदर्भ वार्ताकार डाॅ. जे.एम. मूर्ति, डाॅ. सुनील छिंपा, डाॅ. अभिमन्यु शर्मा, मिस जैसमिन सेठी व डाॅ. विपिन यादव आदि के दल ने महाविद्यालय के विद्यार्थियों से आमुख होते हुए आजीविका के लिहाज़ से स्वरोजगार तथा साहसिकता के महत्व व सम्भावनाओं पर गहन चर्चा के साथ दिशापरक आमुखीकरण का सत्र संचालित किया। अध्यक्षीय उदबोधन में प्राचार्या डाॅ सुमन भाटिया ने ईसीएच टीम का अभिनंदन करते हुए कहा कि विकासशील देशों में स्वरोजगार का मुख्य आधार उद्यमिता व युवावर्ग की पहल है, अतः इस दिशा के कार्य करना एक महत्वपूर्ण आर्थिक उपागम है, जो भावी पीढ़ी दशा व दिशा बदल सकता है। कार्यक्रम में महाविद्यालय के संकाय सदस्य डाॅ. नीलम शर्मा, ललिता शर्मा, डाॅ. अजीत सिंह चौधरी, विवेक कुमार चुलेट, संगीता कुमारी, रमेश कुमार गुर्जर, महेश मीणा आदि ने सक्रिय भागीदारी निभाकर कार्यक्रम को सफ़ल व शोभनीय बनाया। कार्यक्रम का संचालन बीए प्रथम वर्ष की छात्रा शबाना बानो व यास्मीन बानो ने किया। धन्यवाद ज्ञापन का दायित्व बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा सोनल पारीक ने निभाया।

By Admin