जयपुर। सांगानेर विधानसभा क्षेत्र में मंगलवार को जनसेवक पुष्पेन्द्र भारद्वाज के कार्यालय में ‘किसान संवाद’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के माध्यम से केन्द्र सरकार के काले कृषि कानूनों का विरोध और देशभर के किसानों की मांग का समर्थन किया गया। इस मौके पर सांगानेर विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न गांवों से सैकड़ों किसान ट्रैक्टर—ट्रॉली, फावड़ा—दंताली, जैली, हल आदि लेकर न्यू सांगानेर रोड स्थित कार्यालय पहुंचे और ‘जय जवान, जय किसान’ के उद्घोष से वातावरण को गुंजायमान कर दिया।

परिवहन मंत्री एवं जयपुर शहर कांग्रेस कमेटी जिलाध्यक्ष प्रताप सिंह खाचरियावास ने इस अवसर पर मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी जी को किसानों से माफी मांगते हुए इस बिल को वापस लेना चाहिए।

जनसेवक पुष्पेंद्र भारद्वाज ने इसे काला कानून करार देते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने किसान विरोधी बिल लाकर आम जनता के हितों पर कुठाराघात किया है। उन्होंने कहा कि किसान देश का अन्नदाता है, जो इस कड़ाके की सर्दी के बीच विरोध प्रदर्शन कर रहा है और केंद्र सरकार हठधर्मिता अपनाकर किसानों की बात सुनने के स्थान पर उन पर ही अनर्गल आरोप लगाकर किसान संगठनों में फूट डालने की साजिश कर रही है। मोदी जी को यह कानून जल्द से जल्द वापस लेना चाहिए। कार्यक्रम में आंदोलन में शहीद हुए किसान भाइयों को श्रद्धांजलि देते हुए दो मिनट का मौन भी रखा गया।

इस अवसर पर राजेश चौधरी प्रभारी किसान आंदोलन समिति, शंकर लाल मीणा , दिनेश व्यास, मनमोहन गुर्जर, पार्षद- शंकर बाजडोलिया, विक्रम वाल्मीकि, रमेश शर्मा, हेमराज बैरवा, अमित सैनी, आशीष परेवा, विजेंद्र सैनी शिवराज गुर्जर, सुनील सिंघानिया, राकेश जोतड, राजीव चौधरी, मोतीलाल शर्मा, हेमा सिंघानिया एवं सांगानेर विधानसभा के प्रबुद्ध नागरिक, कांग्रेस कार्यकर्ता और बड़ी संख्या में किसान साथी उपस्थित रहे।

By Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *